Advertisements

Thursday, 2 August 2018

क्या आप जैक मा के बारे में जानते हैं ? Jack Ma in Hindi

1 comment:
क्या आप जैक मा के बारे में जानते हैं ?
JACK MA IN Hindi 
दोस्तो आज में आपको बहुत ही प्रेरणा दायी शक्शियत जैक मा के बारे में बताऊंगा। जैक मा जो कि अलीबाबा ग्रुप के संस्थापक व चेयरमेन हैं। आप इतना जान लीजिये कि वो इस समय चीन के सबसे धनवान व्यक्ति हैं और कई साल से उनका नाम लगातार फोर्बेस मैगज़ीन के सबसे धनी व्यक्तियों की सूचि में है। आज हम उन्ही के बारे में चर्चा करेंगे।

Jack Ma In Hindi
जैक मा
जैक मा का असली व बचपन का नाम मा यूँ है। उनका जन्म 10 सितम्बर 1964 को चीन के हांगझू में हुआ। इस समय उनकी कुल राशि / संपत्ति  42 बिलियन अमेरिकन डॉलर के आसपास है। पर उनकी जीवनी में उनकी ये ऊंचाई इतनी महत्वपूर्ण नहीं हैं बल्कि महत्वपूर्ण है उनकी शुरुआत। 
उनकी शुरुआत बेहद अलग है जिससे आपको पता चलेगा कि उनके जीवन में इतनी कठिनाई आयी लेकिन फिर भी उन्होंने अपने आपको कभी भी किसी से कम नहीं माना। जैक मा का जन्म एक बहुत ही साधारण से परिवार में हुआ था। 13 साल की उम्र में उन्होंने अंग्रेजी सीखनी शुरू कर दी ये इतनी बड़ी बात नहीं है। लेकिन उस समय चीन में अंग्रेजी का इतना प्रचलन नहीं था। तो इसके बावजूद भी जैक ने अलग राह चुनी। उन्होंने कोई स्कूल या इंस्टीटूट से अंग्रेजी नहीं सीखी। उन्होंने सबसे पहले टूरिस्ट गाइड का काम शुरू किया ताकि वह चीन में आने वाले अंग्रेजी बोलने वाले यात्रियों से अंग्रेजी में बात करके अंग्रेजी सीखे। 
आपको ऊपर लिखी बात से ही आईडिया लग गया होगा कि उनका सफर बेहद संघर्षमय रहा। पढ़ने में इतना अच्छा नहीं था इसलिए चौथी क्लास में 2 बार फेल हुए, 8 वीं में 3 बार फेल हुए और उन्होंने इंग्लिश में ग्रेजुएशन किया। ग्रेजुएशन भी कोई हल्के में नहीं हुआ। ग्रेजुएशन में भी पांच बार फेल हुए। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने का मन हुआ उनका लेकिन हारवर्ड यूनिवर्सिटी में उन्होंने 10 बार आवेदन किया लेकिन वो दस के दस बार रिजेक्ट हो गए। 
ये सभी बाते उन्होंने अपने मीडिया इंटरव्यूज और विभिन्न जगह पर होने वाले स्पीच में खुद बताई हैं। संघर्ष यहाँ ख़त्म नहीं हुआ पढाई के बाद उन्होंने 30 जगह जॉब के लिए फॉर्म भरा लेकिन उनकी बात कहीं नहीं बनी। उन्होंने बताया कि जब केएफसी के स्टोर चीन में खुले तो उन्होंने वहां भी जॉब के लिए आवेदन किया।  उसमे 24  लोगों ने अप्लाई किया लेकिन 23 को सेलेक्ट किया और जैक मा अब भी जॉब न पा सके। लेकिन उनकी इंग्लिश अच्छी हो चुकी थी तो उन्हें एक कॉलेज में लेक्चरर के तौर पर नौकरी मिल गयी। बाद में ट्रांसलेटर के तौर पर भी काम किया कुछ दिन। वह हर जगह अपना हाथ आजमा रहे थे। 
अब एक दिन वह अपने मित्र से मिलने अमेरिका गए उन्होंने वहां पर पहली बार इंटरनेट का इस्तेमाल देखा। उन्होंने उस समय बियर का सर्च किया इंटरनेट पर तो पाया कि बीयर से जुडी काफी जानकरी आयी लेकिन उनमे से कोई भी जानकारी उनके देश चीन से जुडी नहीं थी तो बस हो गया माइंड में क्लिक कि इंटरनेट में ही कुछ करना है। 
तो चीन वापस आकर उन्होंने अपनी पहली कंपनी खोली 'चाइना येलो पेजेज ' लेकिन उसमे किसीने पैसे नहीं लगाए और वह चल नहीं पायी। बाद में उन्होंने उसी आईडिया से दूसरी कंपनी खोली जिसका नाम है अलीबाबा। जिसको अच्छे निवेशक मिल गए और वो कंपनी बस आगे बढ़ती गयी। तो इस से हमें ये पता चलता है की बड़ा बनना आसान तो नहीं है लेकिन अगर आप एक दिशा में मेहनत करते जा रहे तो तो एक दिन अच्छा मुकाम हासिल कर ही लेते हो। आर्टिकल अच्छा लगा हो तो शेयर कीजियेगा। 
Continue Reading...

Saturday, 7 July 2018

Facts about UP CM Post मुख्यमंत्री

No comments:
यूपी मुख्यमंत्री के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी Facts about UP CM Post
नीचे हम आपको उत्तर प्रदेश जो कि इतनी अधिक जनसँख्या के कारण भारत में अपना अलग ही महत्व रखता है उसके मुख्यमंत्री के पद के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी बताएँगे। यह आपके ज्ञान और आने वाली परीक्षाओं के हिसाब से भी काफी महत्वपूर्ण होगा। 
प्रेम मंदिर वृन्दावन मथुरा उत्तर प्रदेश 
  • 26 जनवरी 1950 को गोविन्द वल्लभ पंत जो कि उस समय यूनाइटेड प्रोविंस (अब उत्तर प्रदेश ) के प्रीमियर थे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री बन गए। 
  • और इसका कारण था की अब यूनाइटेड प्रोविंस इतिहास बन चुका था। 26 जनवरी को ही नाम बदलकर उत्तर प्रदेश कर दिया गया था। 
  • अब तक उत्तर प्रदेश के पास दो महिला मुख्यमंत्री रही - सुचेता कृपलानी और मायावती। 
  • सुचेता कृपलानी भारत के किसी भी राज्य में बनी  पहली महिला मुख्यमंत्री  है। 
  • अब तक उत्तर प्रदेश के 21 मुख्यमंत्री बन चुके हैं जिसमे से 11 कॉंग्रेस से रहे और बाकि अन्य दलों से। 
  • अब तक 2017 तक 34 बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली जा चुकी है। 
  • यूपी के दो मुख्यमंत्री बाद में भारत के प्रधानमंत्री भी रहे - वीपी सिंह और चरण सिंह 
  • अखिलेश यादव(समाजवादी पार्टी) सबसे कम उम्र में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। 2012 में  जब वह मुख्यमंत्री बने तो उस समय उनकी उम्र सिर्फ 38 साल थी। वह 2012 से 2017 तक उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री रहे। बाद में 2017 में योगी आदित्यनाथ (भाजपा ) उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री बन गए। 
  • अब तक उत्तर प्रदेश में 10 बार राष्ट्रपति शासन लग चुका है। सबसे हाल में 2002 में लगा। 
  • आपको और कुछ बाते इस टॉपिक पर पता है तो कमेन्ट करो हम चेक करके इधर शामिल करेंगे। 
उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय का पता:
लाल बहादुर शास्त्री भवन, लख़नऊ 
Lal Bahadur Shastri Bhawan, Lucknow
up cm janta darbar address  


Continue Reading...

GK Current Affairs WordPandit Hindi

No comments:

GK Current Affairs WordPandit Hindi

26 May 2018
  • रेल मंत्रालय सर्वेक्षण के अनुसार 25 मई 2018  को  कानपुर रेलवे स्टेशन को भारत का सबसे गन्दा स्टेशन घोषित किया गया। 
  • दिल्ली मेट्रो स्टेशन फेज 3 मेट्रो का मजेंटा लाइन का जनकपुरी वेस्ट का मेट्रो स्टेशन हाल ही में चर्चा में तब आया जब वहां देश का सबसे लम्बा एस्केलेटर लगा दिया गया। 
  •  के एस कुमार को कर्नाटक विधानसभा का अध्यक्ष चुना गया। 
  • पश्चिम बंगाल के विश्व भारती विद्यालय के 49वे दीक्षांत समारोह में भारत के प्रधानमंत्री विद्यार्थियों को सम्मानित करने पहुंचे। 
  • प्रधानमंत्री मार्क रूट जिन्होंने भारत यात्रा पर 50 समझौतों पर हस्ताक्षर किये वे किस देश के प्रधान मंत्री हैं ? -- नीदरलैंड 
  • वह स्थान जहाँ पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प उत्तरी कोरिया के किम जोंग उन के साथ वार्ता करेंगे -- सिंगापुर
हाल ही में किस केबिनेट मंत्री ने विराट कोहली , साइना नेहवाल और ऋतिक रोशन को फिटनेस चैलेंज दिया ? -- राज्य वर्धन सिंह राठोड, खेल मंत्री 

हाल ही में भारतीय मूल के नेता गोबिंद सिंह देव् मलेशिया में केबिनेट मंत्री बनाये जाने वाले अल्पसंख्यक सिख समुदाय के पहले व्यक्ति बन गए। 
 
Continue Reading...

Why are there prime ministers and chief ministers now

No comments:
Why are there prime ministers and chief ministers now instead of kings why can't still there be kings instead of them?
Prime Ministers and Chief Ministers are part of a well designed federal democratic structural organisation. This system is well designed to accommodate all person into the system with honor through a process.
While countries that have kings mostly follow Monarchism. Son or daughter of King or someone that belongs to them takes the chair from predecessor. There is no control in the hands of public that belongs to that land. 
So our democratic election system has a flexibility to take a common man to a top post which is not that easily available in countries having kings. We as India is a democratic country where every five years we can change the whole controlling body to a totally new group of people. So it is far better in welfare of public. This is our view. If you have some other view than please leave few lines in comment section.
Continue Reading...

Friday, 6 July 2018

भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री

No comments:
भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री 
Bharat ke Vartman Pradhan Mantri

यह तो सबको पता होना चाहिए की हम लोग जिस भारत देश में रहते है उसके प्रधान मंत्री कौन है? कई बार लोगों से पूछा जाता है कि भारत के प्रधान मंत्री कौन हैं ? तो इसका उत्तर है माननीय श्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी। नरेंद्र मोदी जी 2014 में भारत के प्रधानमंत्री बने। इनसे पहले भारत के प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह थे। नरेंद्र मोदी भारत के 14वें प्रधान मंत्री बने। यह भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए हैं। इनका जन्म 17 सितम्बर 1950 को वाडनगर गुजरात में हुआ था इसीलिए यह भारत के पहले प्रधान मंत्री हैं जिनका जन्म भारत की स्वतंत्रता दिवस के बाद हुआ। 
नरेंद्र मोदी जी की तस्वीर 
Narendra Modi Bharat Ke PradhanMantri 
नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बनने से पहले गुजरात के मुख्यमंत्री थे। इनकी पत्नी जिनसे अब ये अलग रहते हैं उनका नाम जशोदाबेन नरेन्द्रभाई मोदी है। जशोदाबेन पेशे से शिक्षिका रही हैं। भारत के प्रधानमंत्री के बारे में और कुछ जानना होतो नीचे कमेंट करें।
क्या आपको पता है भारत के प्रधानमंत्री को वेतन कितना होता है? आइए GKtree पर
Continue Reading...

संत कबीर नगर में सीबीएसई से मर्यादित स्कूलों की सूचि

No comments:
संत कबीर नगर में सीबीएसई से मर्यादित स्कूलों की सूचि 
दोस्तों आज हम तैयार कर रहे है सीबीएसई से मर्यादित यानि सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूलों की सूचि जो कि संत कबीर नगर में स्थित है। यहाँ पर संत कबीर नगर से हमारा तात्पर्य बस्ती उत्तरप्रदेश में स्थित एक जिले से है. जिसका नाम विख्यात संत कबीर दास जी के नाम पर पड़ा. अब आते हैं यहाँ पर स्थित CBSE से जुड़े स्कूलों पर। संत कबीर नगर जिला का मुख्यालय है खलीलाबाद। यहाँ पर कई स्कूल हैं जो कि नीचे दिए गए हैं:
1. सेंट्रल अकादमी स्कूल खलीलाबाद : यह एक प्राइवेट बाल बालिका विद्यालय है। इस स्कूल में पहली से बारहवीं तक के छात्र पढ़ते हैं। 
स्कूल का पता : केंद्रीय अकादमी खलीलाबाद 272175 उत्तर प्रदेश 
फ़ोन 5547 -23172 
2. जीआर अकादमी (GR Academy )
यह सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूल भी प्राइवेट विद्यालय है इसमें भी पहली से बारहवीं तक के छात्र पढ़ते हैं। 

बाकि अन्य स्कूल यहाँ सरकारी है और उत्तर प्रदेश बोर्ड के अंतर्गत शिक्षा प्रदान करते है।  संत कबीर नगर के मुख्य सरकारी स्कूल गवर्नमेंट गर्ल्स इंटर कॉलेज व हीरालाल रामनिवास इंटर कॉलेज हैं। 

अगर आपको खलीलाबाद या संत कबीर में शुरू हुए किसी अन्य सीबीएसई से जुड़े स्कूल की जानकारी भी है तो नीचे कमेंट करें। 
sant kabir nagar cbse affiliated schools, cbse affiliated school in sant kabir nagar


Continue Reading...